गाँव की एक भोर, भारत की तस्वीर !!!

बुधवार, 25 मार्च 2009

गाँव में था, सो सुबह सुबह उठाना मजबूरी इस मज़बूरी ने प्रकृति की कुछ छटा दिखायी जिसने बचपन को ताजा किया, आप से साझा कर रहा हूँ शायद आपने भी इस भारत को देखा हो ?



गाँव की सुबह, सूर्योदय से पहले ही घरों से निकलता धुंआ मानो सूर्य देव के लिए धुनी रमाई हो !


सुबह हुई, काका ने बैल को निकला खलिहान में बाँधा


खलिहान से आम के मन्न्जरों के बीच से सूर्य नमस्कार !!!



सुबह और दैनिक कार्यक्रम की शुरुआत, ठंडी में भी बर्फ बेचने के लिए निकला बेचन !



चाचा का टायर गाड़ी चली हाट



दादा जी खलिहान में पोते और नाती के साथ



सुबह हुई और दूध वाला दूध लेकर चला हाट



अड़हड़ की बलि से झलकती प्रकृति की छटा निराली


कोशिश की इन तस्वीरों से गाँव को दिखाने की, पसंद ना आए तो भी करना नमस्कार इस भारत को

9 टिप्पणियाँ:

Anwin ने कहा…

Hi Rajneesh, reached here through the IndiBlogger Delhi NCR blogger meet page. Looking forward to meet with you and other Delhi bloggers.

Cheers,
Anwin
IndiBlogger.in

मुनव्वर सुल्ताना ने कहा…

रजनीश भाई बेहतरीन है, आधे घंटे से इन तस्वीरों को देखते हुए बस कल्पनाएं कर रही थी कि गांव कैसा होता है मैं कभी किसी गांव नहीं गई बस आप लोगों ने कल्पना को एक धरातल दे रखा है अगर कभी संभव हुआ तो आपमें से किसी भड़ासी के गांव जरूर आना चाहूंगी
जय जय भड़ास

Madhaw Tiwari ने कहा…

जीवन में हमारे सामने कई तरह के सवाल आते हैं... कभी वो अर्थ के होते हैं... कभी अर्थहीन.. अगर आपके पास हैं कुछ अर्थहीन सवाल या दें सकते हैं अर्थहीन सवालों के जवाब तो यहां क्लिक करिए

डा.रूपेश श्रीवास्तव(Dr.Rupesh Shrivastava) ने कहा…

भाई बचपन याद आ गया.....
मुंबई में आकर तो जीवन का हर आयाम पता नहीं कहां खो जाता है बस दौड़ते रहो और इसी दौड़ में एकदिन सरपट निकल लो खुदा के घर....
जय जय भड़ास

Manoj dwivedi ने कहा…

Rajnish bhai ghar jane ka man karne laga hai...

चंदन श्रीवास्तव ने कहा…

बस ये समझ लीजिये काम काज छोड़कर गाँव भाग जाने का मन कर रहा है. वाकई बहुत खूबसूरत

भूमिका रूपेश ने कहा…

मैं भी घर वापिस गयी थी सबकुछ ऐसा ही सुन्दर है लेकिन मुझे वापस आना पड़ा परिवार वालों ने स्वीकारा ही नहीं....
जय जय भड़ास

mark rai ने कहा…

apane gaanw ki yaad aa gayi ...ab aur kuchh nahi kah sakata..

प्रकाशित सभी सामग्री के विषय में किसी भी कार्यवाही हेतु संचालक का सीधा उत्तरदायित्त्व नही है अपितु लेखक उत्तरदायी है। आलेख की विषयवस्तु से संचालक की सहमति/सम्मति अनिवार्य नहीं है। कोई भी अश्लील, अनैतिक, असामाजिक,राष्ट्रविरोधी तथा असंवैधानिक सामग्री यदि प्रकाशित करी जाती है तो वह प्रकाशन के 24 घंटे के भीतर हटा दी जाएगी व लेखक सदस्यता समाप्त कर दी जाएगी। यदि आगंतुक कोई आपत्तिजनक सामग्री पाते हैं तो तत्काल संचालक को सूचित करें - rajneesh.newmedia@gmail.com अथवा आप हमें ऊपर दिए गये ब्लॉग के पते bharhaas.bhadas@blogger.com पर भी ई-मेल कर सकते हैं।
eXTReMe Tracker

  © भड़ास भड़ासीजन के द्वारा जय जय भड़ास२००८

Back to TOP