रामपुर की बसंती (जयाप्रदा)

शनिवार, 16 मई 2009

=>नाच मेरी बुलबुल तुझे पैसा मिलेगा, ऐसा कदरदान तुझे कहां मिलेगा ।

=>मैं इतना ज़ोर से नाची आज, की घुंघरू टूट गये ।


=>जरा नचनिया के हाथ पांव तो देखो । बहुत करारे है साले । इ रामपुर की कौने चक्की का पिसा आटा खाती है ।

(चुनाव के दौरान रामपुर में जयाप्रदा के अश्लील पोस्टर लगाये गये थे और उनकी अश्लील सी.डी. बांटी गई थी । अमर सिंह का आरोप है कि ये शुभ काम आज़म खां के दिशा निर्देशन में किया गया था ।)

3 टिप्पणियाँ:

डा.रूपेश श्रीवास्तव(Dr.Rupesh Shrivastava) ने कहा…

हो सकता है लेकिन आइडिया कमर सिंह(अमर सिह) का ही होगा, इस तरह के छिछोरपन में जनाब को महारत हासिल है, वैसे क्या इन्होंने स्पष्ट करा है कि इनके इस आरोप का आधार क्या है...
जयाप्रदा एनिमेटेड अवतार में नाचते हुए इतनी प्यारी लग रही हैं कि थोड़ी देर के लिये तो हम भी डगमगा कर नाच लिये :) बहुत सुन्दर कलेक्शन है आपका इन फाइल्स का....
जय जय भड़ास

गुफरान सिद्दीकी ने कहा…

लीजिये साहब सूप तो बोले ही बोले चलनी भी बोले जिसमे बहत्तर छेद अरे अमर सिंह जी आप जैसा सज्जन दलाल ये कह रहा है जिसका दावा है की बॉलीवुड की कोई भी अभिनेत्री बिकने को तैयार रहती है बस खरीदार आपको माध्यम बना कर बात करे! खैर कृष्ण मोहन जी कम शब्दों में काफी कुछ कहते हैं आप मज़ा आ गया ......

आपका हमवतन भाई ...गुफरान...अवध पीपुल्स फोरम ..फैजाबाद.

रजनीश के झा (Rajneesh K Jha) ने कहा…

बहुत खूब भैये,

तस्वीरों से सुन्दर अभिव्यक्ति, व्यंग का सुन्दर प्रस्तुतीकरण.
जारी रहिये.

जय जय भड़ास

प्रकाशित सभी सामग्री के विषय में किसी भी कार्यवाही हेतु संचालक का सीधा उत्तरदायित्त्व नही है अपितु लेखक उत्तरदायी है। आलेख की विषयवस्तु से संचालक की सहमति/सम्मति अनिवार्य नहीं है। कोई भी अश्लील, अनैतिक, असामाजिक,राष्ट्रविरोधी तथा असंवैधानिक सामग्री यदि प्रकाशित करी जाती है तो वह प्रकाशन के 24 घंटे के भीतर हटा दी जाएगी व लेखक सदस्यता समाप्त कर दी जाएगी। यदि आगंतुक कोई आपत्तिजनक सामग्री पाते हैं तो तत्काल संचालक को सूचित करें - rajneesh.newmedia@gmail.com अथवा आप हमें ऊपर दिए गये ब्लॉग के पते bharhaas.bhadas@blogger.com पर भी ई-मेल कर सकते हैं।
eXTReMe Tracker

  © भड़ास भड़ासीजन के द्वारा जय जय भड़ास२००८

Back to TOP