भड़ास काफी पसंद आयी......

सोमवार, 19 अक्तूबर 2009


mahoday saprem nanaskarm,
Aap ki bhadas dekhi aur kafee pasand ayi,
atah yadi aap ki aaghyan ho to main in main se kuchh chunindah articles apne pakshik samachar patr " JANHIT VIJAY " main prakashit karoon,, pushchah..article ke lekhak ke nam ke sath ukt article apne samachar patar main prakashit kar sakta hoo? ( sabhar ke sath)... dhanyavad
janhitnews


3 टिप्पणियाँ:

मुनव्वर सुल्ताना ने कहा…

आप को भड़ास पसंद आया ये विचित्र सा सुख देने वाली बात है क्योंकि हमारा उगला हुआ भी किसी के खाने के काम आ जाए ये बात डा.रूपेश कहा करते हैं तब तो सार्थकता है हमारी उल्टी करी वमन की वरना सब व्यर्थ....।
आदरणीय आपने अपना परिचय नहीं दिया कि समाचार पत्र कहां से निकलता है,आपका नाम क्या है आदि। एक बात ध्यान रखिएगा कि कई पोस्ट्स किसी न किसी विवाद के संदर्भ और प्रसंग से जुड़ी रही हैं इसलिये यदि आप आगे-पीछे की बातों का उल्लेख करे बिना पोस्ट लेंगे और बताएंगे कि भड़ासी ये विचार रखते हैं तो ये सत्य अधूरे से होंगे ये ध्यान रखें वैसे हमारे भड़ास परिवार में मनीषा दीदी का "अर्धसत्य" भी जुड़ा है।
मुझे आशा है कि संचालक द्वय भाई रजनीश झा और डा.रूपेश श्रीवास्तव जी को कोई आपत्ति न होगी।
जय जय भड़ास

Suman ने कहा…

srimanji


loksangharsha k lakh perkasit kary.




suman

loksangharsha

डा.रूपेश श्रीवास्तव(Dr.Rupesh Shrivastava) ने कहा…

भाई धन्यवाद इस बात के लिये कि आपको भड़ास में कुछ भी पसंद आया। शेष मुनव्वर आपा ने कह ही दिया है। अब तो आपने देख लिया कि सुमन भाईसाहब ने भी लोकसंघर्ष के बारे में अनुमति दे दी है। हमारा कोई कापीराइट नहीं है भला दर्द,चीख और रचनात्मकता का भी कापीराइट हो सकता है?
जय जय भड़ास

प्रकाशित सभी सामग्री के विषय में किसी भी कार्यवाही हेतु संचालक का सीधा उत्तरदायित्त्व नही है अपितु लेखक उत्तरदायी है। आलेख की विषयवस्तु से संचालक की सहमति/सम्मति अनिवार्य नहीं है। कोई भी अश्लील, अनैतिक, असामाजिक,राष्ट्रविरोधी तथा असंवैधानिक सामग्री यदि प्रकाशित करी जाती है तो वह प्रकाशन के 24 घंटे के भीतर हटा दी जाएगी व लेखक सदस्यता समाप्त कर दी जाएगी। यदि आगंतुक कोई आपत्तिजनक सामग्री पाते हैं तो तत्काल संचालक को सूचित करें - rajneesh.newmedia@gmail.com अथवा आप हमें ऊपर दिए गये ब्लॉग के पते bharhaas.bhadas@blogger.com पर भी ई-मेल कर सकते हैं।
eXTReMe Tracker

  © भड़ास भड़ासीजन के द्वारा जय जय भड़ास२००८

Back to TOP