लो क सं घ र्ष !: राष्ट्रवादियों के लिए

बुधवार, 21 अक्तूबर 2009

यहाँ हर मुस्लिम को अपने भारतीय होने और उसके नाते सभी समान अधिकार पाने की उम्मीद रखनी चाहिएअगर हम उसके मन में यह भावना नही जगा पाते तो हम अपने देश और विरासत दोनों के लिए अपात्र हैं

-राष्ट्रिय स्वयं सेवक संघ पर प्रतिबन्ध लगाने
वाले भारत के प्रथम गृह मंत्री सरदार वल्लभ भाई पटेल

सुमन
loksangharsha.blogspot.com

2 टिप्पणियाँ:

Nirmla Kapila ने कहा…

बिलकुल सही कहा आपने केवल चंद लोगों के गुनाह की सज़ा सब को नहीं दी जा सकती। शुभकामनायें

डा.रूपेश श्रीवास्तव(Dr.Rupesh Shrivastava) ने कहा…

अफ़सोस तो इस बात का है कि हमारा संविधान भी धर्म के आधार पर समान नागरिक अधिकारों में वर्गीकरण करके अलग-२ कर देता है। जब ऐसा संवैधानिक तौर पर हो जाएगा तो इस तरह की सोच पर जीने वाले लोग स्वयं ही समाप्त हो जाएंगे। रोक लगाने से भी क्या होता है संगठन भूमिगत होकर अधिक सशक्त और खतरनाक हो जाते हैं।
जय जय भड़ास

प्रकाशित सभी सामग्री के विषय में किसी भी कार्यवाही हेतु संचालक का सीधा उत्तरदायित्त्व नही है अपितु लेखक उत्तरदायी है। आलेख की विषयवस्तु से संचालक की सहमति/सम्मति अनिवार्य नहीं है। कोई भी अश्लील, अनैतिक, असामाजिक,राष्ट्रविरोधी तथा असंवैधानिक सामग्री यदि प्रकाशित करी जाती है तो वह प्रकाशन के 24 घंटे के भीतर हटा दी जाएगी व लेखक सदस्यता समाप्त कर दी जाएगी। यदि आगंतुक कोई आपत्तिजनक सामग्री पाते हैं तो तत्काल संचालक को सूचित करें - rajneesh.newmedia@gmail.com अथवा आप हमें ऊपर दिए गये ब्लॉग के पते bharhaas.bhadas@blogger.com पर भी ई-मेल कर सकते हैं।
eXTReMe Tracker

  © भड़ास भड़ासीजन के द्वारा जय जय भड़ास२००८

Back to TOP