राजनैतिक नौटंकी की हद

गुरुवार, 24 दिसंबर 2009

जरा इसे देखिये

राजनैतिक नौटंकी की हद पर खड़े राजनैतिक ड्रामेबाज़
राहुल गांधी गरीबों को चूतिया बनाते हुए, हमारा मीडिया भी इनकी गरीबी का मजाक उड़ाती कमीनेपन की हरकतों को रस ले लेकर खूब सबको बताता है।
करुणानिधि का उपवास

दुनिया में पहली बार ऐतिहासिक भूखहड़ताल मात्र चार घंटे के लिये .सी.के साथ..

यह साल २००९ की सर्वश्रेष्ठ कामेडी...

भूख हड़ताल सुबह के नाश्ते के बाद शुरू हुई और दोपहर के भोजन से पहले खत्म हो गयी.... दिलचस्प है ???

इस संदेश को अधिकतम लोगों तक पहुंचाइये ताकि हमें इस तरह की राजनैतिक मसखरेपन से छुटकारा मिल सके और हम देश का निर्माण कर सकें

जय हिंद


मिलिंद कामत

6 टिप्पणियाँ:

अजय मोहन ने कहा…

मिलिंद भाई के भेजे इस संदेश में सचमुच दोषी कौन है? क्यों नहीं राहुल गांधी को जूते मार कर भगा दिया उन मजदूरों ने? एक बार कहते तो आवाज बुलंद करके कि अबे जूते उतार कर जरा वजन उठा कर देख तो जरा हम भी देखें तेरा पसीना किस रंग का है। जब तक जनता का आत्मसम्मान नहीं जागता ये लोग ऐसे ही पेलते रहेंगे और जनता अपनी खोल कर बजवाती रहेगी
जय जय भड़ास

गुफरान सिद्दीकी ने कहा…

arey ye kya kar rahe ho bhai yuvraaj ko samaj sewa karne do danda mat karo

डा.रूपेश श्रीवास्तव(Dr.Rupesh Shrivastava) ने कहा…

मिलिंद भाई जोरदार मसाला भेजा है एकदम बारूदी है लेकिन देखना है कि क्या लोग अब भी चेतते हैं या बस.....
जय जय भड़ास

अजय मोहन ने कहा…

हम तो डंडा करेगा...
दुनिया से नहीं डरेगा....
चाहे ये जमाना...
कहे हमको दीवाना..
पर दुनिया से नहीं डरेगा
हम तो डंडा करेगा........
इनको तो पूरी बंसवारी कर दी जाए तो भी कम है
जय जय भड़ास

मनोज द्विवेदी ने कहा…

YUVRAJ NAHI..'RAJ' KARNE KE LIYE 'YUVA' KA NATAK HO RAHA HAI...

प्रकाशित सभी सामग्री के विषय में किसी भी कार्यवाही हेतु संचालक का सीधा उत्तरदायित्त्व नही है अपितु लेखक उत्तरदायी है। आलेख की विषयवस्तु से संचालक की सहमति/सम्मति अनिवार्य नहीं है। कोई भी अश्लील, अनैतिक, असामाजिक,राष्ट्रविरोधी तथा असंवैधानिक सामग्री यदि प्रकाशित करी जाती है तो वह प्रकाशन के 24 घंटे के भीतर हटा दी जाएगी व लेखक सदस्यता समाप्त कर दी जाएगी। यदि आगंतुक कोई आपत्तिजनक सामग्री पाते हैं तो तत्काल संचालक को सूचित करें - rajneesh.newmedia@gmail.com अथवा आप हमें ऊपर दिए गये ब्लॉग के पते bharhaas.bhadas@blogger.com पर भी ई-मेल कर सकते हैं।
eXTReMe Tracker

  © भड़ास भड़ासीजन के द्वारा जय जय भड़ास२००८

Back to TOP