सुमन जी लोकसंघर्ष के गिरफ्तार साथियों के विषय में रोज ताजा जानकारी दें

बुधवार, 10 फ़रवरी 2010

सुमन जी से निवेदन है कि वे सरकार द्वारा उत्पीड़ित करे जा रहे अपने उन साथियों के बारे में लिखें जैसा कि तेज तर्रार अंदाज में हमारे डॉ.रुपेश श्रीवास्तव जी ने लिखा था। हमें कम से कम पता तो चले कि उनके साथ क्या हो रहा है। हम उनकी आवाज़ को हर जगह पहुँचा देना चाहते हैं इसलिए कृपया आगे की जानकारी देते रहिये। हम सब थोड़े अपनी अपनी रोजी-रोटी में उलझे हैं इसका अर्थ ये नहीं है कि लोग हमें निरा शिखंडी का अवतार समझ लें हम भड़ासी हैं जो ये मानते हैं कि पहले कलम से लिख कर बात करो यदि बात न बने तो कलम की स्याही को सामने वाले के मुंह पर उलट दो और अगर फिर भी न माने तो फिर आख़िरी उपाय बचता है कि कलम को उसके पिछवाड़े घुसा दिया जाए ताकि तुरंत उसे समझ आ जाए कि गलत जगह पंगा ले लिया है
जय जय भड़ास

2 टिप्पणियाँ:

Suman ने कहा…

sir
mo. 09450195427 per bat karay.sadar.suman

मुनेन्द्र सोनी ने कहा…

भाई लिख पाना इतना आसान होता तो सुमन जी अपना फोन नंबर देने की बजाए खुद ही अपनी टीम में से किसी से लिखवा देते। जाओ साले सरकार ने कह दिया कि तुम माओवादी या कोई से भी ऐसे वादी-विवादी हो जो सरकार को पसंद नहीं है तो अब तुम अपनी चमड़ी-हड्डी बचाओ ये सिद्ध करने में कि नहीं सरकार जी!हम तो आम जनता हैं। सरकार आपको जेल में पेल कर बधिया बना डालेगी ये ध्यान रखें
जय जय भड़ास

प्रकाशित सभी सामग्री के विषय में किसी भी कार्यवाही हेतु संचालक का सीधा उत्तरदायित्त्व नही है अपितु लेखक उत्तरदायी है। आलेख की विषयवस्तु से संचालक की सहमति/सम्मति अनिवार्य नहीं है। कोई भी अश्लील, अनैतिक, असामाजिक,राष्ट्रविरोधी तथा असंवैधानिक सामग्री यदि प्रकाशित करी जाती है तो वह प्रकाशन के 24 घंटे के भीतर हटा दी जाएगी व लेखक सदस्यता समाप्त कर दी जाएगी। यदि आगंतुक कोई आपत्तिजनक सामग्री पाते हैं तो तत्काल संचालक को सूचित करें - rajneesh.newmedia@gmail.com अथवा आप हमें ऊपर दिए गये ब्लॉग के पते bharhaas.bhadas@blogger.com पर भी ई-मेल कर सकते हैं।
eXTReMe Tracker

  © भड़ास भड़ासीजन के द्वारा जय जय भड़ास२००८

Back to TOP