आदरणीय रजनीश झा सर बताएं कि नवभारत टाइम्स(मुंबई) के प्रकाशक ,मालिक आदि मिल कर क्या खेल खेल रहे हैं??

रविवार, 8 अगस्त 2010

नवभारत टाइम्स(मुंबई) के प्रकाशक ,मालिक आदि मि कर क्या खेल खेल रहे हैं ये तो समझ में नहीं आ रहा है लेकिन जो गड़बड़ी है वह सामने दिख रही है। इस क्षेत्र के जानकार आदरणीय सर रजनीश झा बताएं कि आखिर ये क्या चक्कर है। इतना तो हम जानते हैं कि एक अखबार के दो रजिस्ट्रेशन नंबर नहीं हो सकते हैं लेकिन मुंब के नवभारत टाइम्स नामक हिंदी अखबार दो आर.एन.आई. नंबरों से प्रकाशित होता है तो जरूर ये कहीं न कहीं सरकार को चूना लगाने या कोई टैक्स बचाने के लिये करा गया नाटक है जो हमारे आपके जैसे लोग नहीं पकड़ पाते लेकिन जो विशेषज्ञ हैं वो जान सकते हैं। प्रमाण के लिये दोनो चित्र सामने रख रहे हैं।आप साफ़ अंतर देख सकते हैं चित्र को बड़ा करके ......
पूरी उम्मीद है कि ये लोभी,लालची,स्वार्थी लोग जो समाचार जैसे पवित्र माध्यम को धंधा बनाए हुए हैं कुछ न कुछ खुराफ़ात कर रहे हैं जिसे आदरणीय सर रजनीश झा अवश्य बताएंगे।
जय नकलंक देव
जय जय भड़ास

3 टिप्पणियाँ:

डा.रूपेश श्रीवास्तव(Dr.Rupesh Shrivastava) ने कहा…

आपने जो प्रमाण रखा है उससे तो लग रहा है कि ये दो समाचार पत्र हैं। अब ये संभव कैसे हुआ कि एक ही नाम के दो समाचार पत्र नामांकित हैं वो भी मुंबई में ही ये तो नियमों के गहरे जानकार ही बता सकते हैं। जहाँ तक मैं जानता हूं कि ऐसा संभव नहीं है लेकिन नियमों मे छेद बना कर उसमें से हाथी गुजार देना ही तो कार्पोरेट्स का काम है और उसमें से करोड़ों रुपया उगा लेना। भाई रजनीश अगर इस बारे में प्रकाश डाल सकें तो कुछ पता चले कि ये क्या गोरखधंधा है
जय जय भड़ास

दीनबन्धु ने कहा…

ये जो कुछ भी गोरखधंधा है धनपतियों के लिये कानूनी और गरीबों के लिये गैरकानूनी है। टाइम्स ग्रुप चाहे तो कानून को कैसे भी तोड़ मरोड़ सकता है। आप लोग गहरी तेज नजर रखते हैं। भड़ास पर इतने लोग आए लेकिन किसी में साहस नहीं है कि इस प्रमाण सहित रखी बात पर अपनी टिप्पणी तक दे सकें।
जय जय भड़ास

सचिन .......... ने कहा…

रूपेश जी इस संबंध में अब तक मिली जानकारी के अनुसार नवभारत टाइम्स डेली और वीकली दोनों के अलग अलग रजिस्ट्रेशन नंबर है। वैसे आरएनआई में नवभारत टाइम्स के नाम से चार डेली एक वार्षिक और दो वीकली के रजिस्ट्रेशन हैं। मुंबई में डेली के रजिस्ट्रेशन नंबर पर रोजना अखबार छपता है लेकिन रविवार को वीकली यानी संडे नवभारत टाइम्स छपता है। निम्न लिंक पर https://rni.nic.in/display_main41.asp और जानकारी मिल सकती है।
बाकी जानकारी मिलने पर। प्रथम दृष्टया यह कोई गडबडी नहीं लगती। फिर भी विशेषज्ञ राय का इंतजार है।

प्रकाशित सभी सामग्री के विषय में किसी भी कार्यवाही हेतु संचालक का सीधा उत्तरदायित्त्व नही है अपितु लेखक उत्तरदायी है। आलेख की विषयवस्तु से संचालक की सहमति/सम्मति अनिवार्य नहीं है। कोई भी अश्लील, अनैतिक, असामाजिक,राष्ट्रविरोधी तथा असंवैधानिक सामग्री यदि प्रकाशित करी जाती है तो वह प्रकाशन के 24 घंटे के भीतर हटा दी जाएगी व लेखक सदस्यता समाप्त कर दी जाएगी। यदि आगंतुक कोई आपत्तिजनक सामग्री पाते हैं तो तत्काल संचालक को सूचित करें - rajneesh.newmedia@gmail.com अथवा आप हमें ऊपर दिए गये ब्लॉग के पते bharhaas.bhadas@blogger.com पर भी ई-मेल कर सकते हैं।
eXTReMe Tracker

  © भड़ास भड़ासीजन के द्वारा जय जय भड़ास२००८

Back to TOP