सोनिया गाँधी हमारे भारतीय संस्कृति को को किस तरह...

रविवार, 5 फ़रवरी 2012


                                                      ओ३म्
सादर नमस्ते

Ayodhya Prasad Tripathiaryavrt39@gmail.com

हमारे पूर्वजों ने ईसा को अपना राजा स्वीकार नहीं किया. उलटे १८५७ से ही ब्रिटिश सरकार के विरुद्ध युद्ध छेड़ दिया. हमें इसी अपराध के लिए १९४७ से ही दंडित किया जा रहा है. भारतीय संविधान का संकलन षड्यंत्र है. अनुच्छेद २९(१).का संकलन आर्य यानी तथाकथित हिन्दू जाति का नरसंहार करने के लिए किया गया है.

कांग्रेस ने भारतीय संविधान का संकलन कर जिन ईसाइयत और इस्लाम को उनकी हत्यालूट और बलात्कार की संस्कृतियों को बनाये रखने का मौलिक अधिकार दे कर इंडिया में रोका है, {भारतीय संविधान का अनुच्छेद २९(१)}, उन्होंने जहां भी आक्रमण या घुसपैठ कीवहाँ की मूल संस्कृति को नष्ट कर दिया. लक्ष्य प्राप्ति में भले ही शताब्दियाँ लग जाएँईसाइयत और इस्लाम आज तक विफल नहीं हुए. भारतीय संविधान ने राज्यपालोंजजों व लोकसेवकों की पदप्रभुता और पेट को वैदिक सनातन धर्म के समूल नाश से जोड़ दिया है.

कांग्रेस ने भारतीय संविधान का संकलन वैदिक सनातन धर्म और उसके अनुयायियों को मिटाने के लिए किया है. सोनिया के देश पर आधिपत्य को स्वीकार करते ही आप ईसा की भेंड़ हैं. भेंड़ सम्पत्ति नहीं रखते. आप के पास क्यों रहे?

ईसा १० करोड़ से अधिक अमेरिकी लाल भारतीयों और उनकी माया संस्कृति को निगल गया. अब ईसा की भेंड़ सोनिया काले भारतीयों और उनकी वैदिक संस्कृति निगल रही है. जिन्हें देशवैदिक सनातन धर्म और सम्मान चाहिए-हमारी सहायता करें. अन्यथा मिटने के लिए तैयार रहें.

मीडिया कर्मियों! सोनिया आप लोगों का मांस खायेगी और रक्त पिएगी| (बाइबलयूहन्ना ६:५३). आप के नारियों का आप की आँखों के सामने बलात्कार कराएगी (बाइबलयाशयाह १३:१६) और आप लोग कुछ न कर पाओगे! आप लोगों के पास सोनिया को मार डालने का कानूनी अधिकार है| (भारतीय दंड संहिता की धाराएँ १०२ व १०५). लेकिन हिंसा का एकाधिकार राज्य के पास होता है|इसीलिए आर्यावर्त सरकार की स्थापना की गई हैक्या आप लोग मानव जाति की रक्षा के लिए आर्यावर्त सरकार की सहायता करेंगे?

जिस समाज के विद्वतजन भ्रष्ट हो जाते हैंवह समाज नष्ट हो जाता हैक्यों कि शिक्षा और आचरण द्वारा भावी पीढ़ी की मनोवृत्ति बनाने वाले वह ही हैंजिस जाति को प्रातः स्मरणीय हुतात्मा पंडित नथूराम गोडसे हत्यारे लगें और राष्ट्र व लाखों गैर-मुसलमानों की हत्याकरोड़ों गैर-मुसलमानों का निर्वासन कराने वाला मोहनदास करमचंद गाँधी महात्मा और राष्ट्रपिता लगे और नित्यप्रति अपने लोगों की घटती जनसंख्या की चिंता न हो वह कितने दिन तक जीवित रह सकती है?

Simran Rocha

23 जनवरी 13:11

सोनिया गाँधी हमारे भारतीय संस्कृति को को किस तरह से नष्ट कर रही है ये इसका जीता जगता सुबूत है . पहले सिक्को पर ऋजुवेद का एक अमर सूक्ति "सत्यमेव जयते " लिखा होता था और हमारे महापुरुषों या धर्मो के प्रतिक होते थे .लेकिन इस सोनिया ने पोप के कहने से हमारे सिक्को पर रोमन निशान क्रोस छपवाना शुरू कर दिया और सत्यमेव जयते अब गायब हों गया .:-

 जागो भारतवासियों इनसो कुरुक्षेत्र जिंदाबाद
संस्कृति बचाओ... तिलक धर्म नहीं संस्कृति है... बिंदी धर्म नहीं संस्कृति है... संस्कृत भाषा धर्म नहीं भारतीय संस्कृति है...पैर छूकर बड़ो का आदर करना धर्म नहींभारतीय संस्कृति है...देश के प्रति प्यार जताना भारतीय संस्कृति है. क्यों भारतीय मुस्लमान और इसाई यह समजते नहीं हैक्या उनको रोमन औरअरेबियन संकृति देश में ठुसनी है. मेरे देशवासियों आप धर्म चाहे कोई भी पालन करो लेकिन संस्कृतिभारतीय होनी चाहिए....

 

In India nobody thinks of the national interest and nation; all they want is power to loot the country; let integration go to dogs; they do not want to consider the ultimate outcome for they do not bother for religion as they are pseudo-secular, but they forget that ultimately the religion only will rule but that will be Islam and then they will have to become Muslim to which also they will not mind but only the power will go.

----------------------

 

INDIA'S RULER WHO DOESN'T KNOW EVEN ONE INDIAN LANGUAGE: SONIA GANDHI'S ढोंग

On January 25, 2012, in Current AffairsIndia, by Sanjeev Sabhlok




This must be true. From a speech  given yesterday in Samrala, Panjab. I've not located the source on the internet, yet, but there is significant evidence, which I discuss below. [Addendum. I've been provided the source:

 http://epaper.indianexpress.com/c/46596]

 

,
ऋषिदेव आर्य

1 टिप्पणियाँ:

Piush Trivedi ने कहा…

Nice Blog , Plz Visit Me:- http://hindi4tech.blogspot.com ??? Follow If U Lke My BLog????

प्रकाशित सभी सामग्री के विषय में किसी भी कार्यवाही हेतु संचालक का सीधा उत्तरदायित्त्व नही है अपितु लेखक उत्तरदायी है। आलेख की विषयवस्तु से संचालक की सहमति/सम्मति अनिवार्य नहीं है। कोई भी अश्लील, अनैतिक, असामाजिक,राष्ट्रविरोधी तथा असंवैधानिक सामग्री यदि प्रकाशित करी जाती है तो वह प्रकाशन के 24 घंटे के भीतर हटा दी जाएगी व लेखक सदस्यता समाप्त कर दी जाएगी। यदि आगंतुक कोई आपत्तिजनक सामग्री पाते हैं तो तत्काल संचालक को सूचित करें - rajneesh.newmedia@gmail.com अथवा आप हमें ऊपर दिए गये ब्लॉग के पते bharhaas.bhadas@blogger.com पर भी ई-मेल कर सकते हैं।
eXTReMe Tracker

  © भड़ास भड़ासीजन के द्वारा जय जय भड़ास२००८

Back to TOP