आप खुद हिसाब लगाइए, पेट्रोल की कीमत

मंगलवार, 29 मई 2012



कहा तेल कंपनियों द्वारा १५ अगस्त को तेल का दाम घटने की बात कही गयी थे और आज मिडिया तेल का दाम बढ़ने के लिए माहौल खड़ा कर रही है जिससे की तेल का दाम घटने का दबाव न बन पाए, ए तो बहुत बड़ी लूट मची है, पता नहीं इस देश का क्या होगा....
आप खुद हिसाब लगाइए, पेट्रोल की कीमत कितनी  होनी है? तो यह ७४ रुपये में क्यों बेचना चाहते है, यह पैसा कहा ज़ा रहा है?.. पढ़कर जानिए--
पहले जानिए---
क्रूड आयल का दाम है ८६ डालर प्रति बैरल,
१ डालर = ४७ रुपये और १ बैरल = १५९ लीटर यानी एक लीटर का दाम=२५.४२ रुपये प्रति लीटर
भारत में रिफाइनिंग खर्च है= प्लांट खर्च-५.४५ रुपये, चालू खर्च-०.५५ रुपये यानि पूरा खर्च=६.०० प्रति लीटर (अमेरिका में यह खर्च १४ सेंट यानी ६.५८ रुपये)
भारत पेट्रोलियम का हर प्रकार का ढुलाई खर्चा अधिकतम ६.०० प्रति लीटर आता है गुजरात में तो यह खर्च ४ रुपये के आसपास है.
पेट्रोल पम्प मालिक का कमीशन -१.५० रुपये  अधिकतम
अब पूरा खर्चा--
क्रूड आयल= २५.४२,
रिफाइनिंग खर्चा=६.००,
ढुलाई खर्चा = ६.००
कमीशन =१.५०
पेट्रोल की कीमत हुई =३८.९२ प्रतिलीटर अधिकतम  
तो इसे ३-०० रुपये और जोड़कर दाम बढ़कर इसे ७४ रुपये तक ले जाने की क्या आवश्यकता है और  ए बाकी का ३५.०८  रुपये कहा ज़ा रहा है.
३८ रुपये की चीज को ७४ रुपये में बेचने का औचित्य क्या है,
जब क्रूड १४७ डालर था तब कंपनिया कह रही थी की उनको ७.०० प्रतिलीटर का घाटा हो रहा है अब क्रूड ८६ रुपये है तो घाटा क्यों हो रहा है, तब पेट्रोल की कीमत ५७ रुपये थी आज ६७ रुपये से  ७१ रुपये है. ए क्या हेरा फेरी है, जनता का खून क्यों चूसकर उद्योग  पतियो को फायदा दिया ज़ा रहा है.
इसक जबाब कौन देगा- सोनिया, राहुल या मन मोहन  सिंह......
लेकिन जनता को तो जबाब चाहिए ही.

0 टिप्पणियाँ:

प्रकाशित सभी सामग्री के विषय में किसी भी कार्यवाही हेतु संचालक का सीधा उत्तरदायित्त्व नही है अपितु लेखक उत्तरदायी है। आलेख की विषयवस्तु से संचालक की सहमति/सम्मति अनिवार्य नहीं है। कोई भी अश्लील, अनैतिक, असामाजिक,राष्ट्रविरोधी तथा असंवैधानिक सामग्री यदि प्रकाशित करी जाती है तो वह प्रकाशन के 24 घंटे के भीतर हटा दी जाएगी व लेखक सदस्यता समाप्त कर दी जाएगी। यदि आगंतुक कोई आपत्तिजनक सामग्री पाते हैं तो तत्काल संचालक को सूचित करें - rajneesh.newmedia@gmail.com अथवा आप हमें ऊपर दिए गये ब्लॉग के पते bharhaas.bhadas@blogger.com पर भी ई-मेल कर सकते हैं।
eXTReMe Tracker

  © भड़ास भड़ासीजन के द्वारा जय जय भड़ास२००८

Back to TOP