मंद-मंद मुस्काए मंदी, दुनिया अंधी हो गई.......

बुधवार, 21 जनवरी 2009

ना ना ना ना...मंदी और मुस्कराहट का कोई जोड़ नही है। अब आप ही बताइए की मंदी की मार से बेहाल भला किस मुह से मुस्कुराएगा, अरे भैय्या वो तो रोयेगा। लेकिन एक बात जान लीजिये कोई ना कोई तो है जो इस भीषद मंदी में भी मुस्कुराये बिना नही रह सकता। अब आप सोच रहे होंगे की मंदी में मुस्कुराने वाला भला कौन? तो इसका सीधा सा उत्तर है की वह मंदी ही है जो इस अंधी दुनिया की करतूतों पर चुपचाप मुस्कुरा रहा है और जो कुछ माल मिल रहा है उसे दबा रहा है। अभी कल की ही बात है अमेरिकी प्रेजिडेंट का सपथ ग्रहण हो रहा था, निवर्तमान प्रेजिडेंट के साथ वर्त्तमान प्रेजिडेंट के चेहरे पर मंदी हौले-हौले अपना असर दिखा रही थी। उधर दूसरी तरफ़ ये अंधी दुनिया दंत निकल हसी से मंदी को मात देने की कोशिश कर रही थी। बराक ओबामा जी ने कहा की मंदी से निबटाना एक चुनौती है और हम इससे जल्दी ही निजात पा लेंगे। लेकिन मंदी भी कहाँ पीछे रहने वाली थी उसने भी दो तुक जबाब दे दिया की अगले चार साल तक मैं ओबामा जैसे इतिहास पुरूष के साथ कंधे से कन्धा मिलकर चलूंगी, आख़िर मुझे भी तो बदलाव का क्रेडिट मिलना चाहिए की नही। मंदी ने अपना बयां जारी रक्खा, उसने कहा की- मैं न होती तो विध्वंस हो चुका होता, भारत और पाकिस्तान के बिच ज़ंग छिड़ चुकी । किसी ने पूछ लिया वो कैसे? मंदी ने कहा- bhaisaheb मंदी का असर है। लाखों लोगों के बिच मंदी ने ऐलान कर दिया है की वो किसी को नही छोड़ने वाली है।

3 टिप्पणियाँ:

हरभूषण ने कहा…

मन्दी बन्दी कुच् नही है ये पुन्जीबाद का आम आदमी के खून पीने का तरीक है ...

डा.रूपेश श्रीवास्तव(Dr.Rupesh Shrivastava) ने कहा…

मनोज भाई,कड़क लेखन है...
मंदा है और गंदा है ये....
कुछ लोगों का धंधा है ये....
जय जय भड़ास

रजनीश के झा (Rajneesh K Jha) ने कहा…

बहुत खूब,
मंदी का जोरदार वर्णन भाई, बधाई लीजिये.
जय जय भड़ास

प्रकाशित सभी सामग्री के विषय में किसी भी कार्यवाही हेतु संचालक का सीधा उत्तरदायित्त्व नही है अपितु लेखक उत्तरदायी है। आलेख की विषयवस्तु से संचालक की सहमति/सम्मति अनिवार्य नहीं है। कोई भी अश्लील, अनैतिक, असामाजिक,राष्ट्रविरोधी तथा असंवैधानिक सामग्री यदि प्रकाशित करी जाती है तो वह प्रकाशन के 24 घंटे के भीतर हटा दी जाएगी व लेखक सदस्यता समाप्त कर दी जाएगी। यदि आगंतुक कोई आपत्तिजनक सामग्री पाते हैं तो तत्काल संचालक को सूचित करें - rajneesh.newmedia@gmail.com अथवा आप हमें ऊपर दिए गये ब्लॉग के पते bharhaas.bhadas@blogger.com पर भी ई-मेल कर सकते हैं।
eXTReMe Tracker

  © भड़ास भड़ासीजन के द्वारा जय जय भड़ास२००८

Back to TOP