वरुण गाँधी ने उगला मुसलामानों के खिलाफ ज़हर !

सोमवार, 16 मार्च 2009


उत्तर प्रदेश के पीलीभीत संसदीय क्षेत्र से बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ रहे वरुण गांधी ने बरखेडा में चुनावी सभा के दौरान मुसलमानों के खिलाफ जमकर ज़हर उगला। उन्होंने देश के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को भी नहीं बख्शा। उनके इस आक्रामक तेवर से बीजेपी भी सकते में है। चुनाव आयोग ने उन्हें नोटिस भी जारी किया। वरुण ने हाल ही में अपने संसदीय क्षेत्र पीलीभीत में एक रैली में कहा था,
'यह हाथ नहीं है। यह कमल का हाथ है। यह मुसलमानों का सर काट देगा, जय श्रीराम।'

एक अन्य सभा में उन्होंने कहा,
'अगर कोई हिंदुओं की तरफ उंगली उठाएगा या समझेगा कि हिंदू कमजोर हैं और उनका कोई नेता नहीं हैं, अगर कोई सोचता है कि ये नेता वोटों के लिए हमारे जूते चाटेंगे तो मैं गीता की कसम खाकर कहता हूं कि मैं उस हाथ को काट डालूंगा।'
वरुण ने कहा,
'जो हाथ हिंदुओं पर उठेगा, मैं उस हाथ को काट दूंगा।'
वरुण गांधी ने देश के राष्ट्रपिता महात्मा गांधी को भी नहीं बख्शा। उन्होंने कहा, गांधीजी कहा करते थे कि कोई इस गाल पर थप्पड़ मारे तो उसके सामने दूसरा गाल कर दो ताकि वह इस गाल पर भी थप्पड़ मार सके। यह क्या है! अगर आपको कोई (मुसलमान) एक थप्पड़ मारे तो आप उसका हाथ काट डालिए कि आगे से वह आपको थप्पड़ नहीं मार सके।  

वरुण ने अपने विरोधियों पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा,
'हमारे पास जो उम्मीदवारों की जो लिस्ट है, उस पर सभी दलों के प्रत्याशियों के फोटो लगे हैं। समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार की तस्वीर देखकर मेरी मौसी की बेटी ने कहा कि भैया मुझे नहीं पता था कि आपके खिलाफ ओसाम बिन लादेन चुनाव लड़ रहा है।'
मैं यहाँ पर बताता चलूँ कि सपा से रियाज़ अहमद चुनाव लड़ रहें हैं| इस वरुण ने कहा,  

'भले ही अमेरिका ओसामा को नहीं खोज पाया, पर मैं इस ओसामा को मजा चखा कर छोड़ूंगा।'  

वरुण का यहाँ तक कहना है कि रात में अगर वह किसी मुसलमान की शक्ल देख लें तो बेहोश हो जायेंगे | बड़े ही डरावने लगते हैं ये मुसलमान |  

बीजेपी एमपी मेनका गांधी के बेटे वरुण के यह बयान बीजेपी को भी रास नहीं आए। बीजेपी नेता मुख्तार अब्बास नकवी ने इस बहाने कांग्रेस पर भी निशाना साधा। उन्होंने कहा कि वरुण के भाषण में उनके परिवार का कांग्रेसी अतीत झलकता है। इसमें बीजेपी की परंपरा नहीं दिखती। इससे पहले, सोनिया ने कहा था कि वरुण ऐसी पार्टी से जुडे़ हैं, जिसकी विचारधारा और संस्कृति अल्पसंख्यक विरोधी है।  

मैं आपको फिर बताता चलूँ कि वरुण ने हाल ही में अपने संसदीय क्षेत्र पीलीभीत में एक रैली में कहा था, 'यह हाथ नहीं है। यह कमल है। यह मुसलमान का सर काट देगा, जय श्रीराम।' एक अन्य सभा में उन्होंने कहा, 'अगर कोई हिंदुओं की तरफ उंगली उठाएगा या समझेगा कि हिंदू कमजोर हैं और उनका कोई नेता नहीं हैं, अगर कोई सोचता है कि ये नेता वोटों के लिए हमारे जूते चाटेंगे तो मैं गीता की कसम खाकर कहता हूं कि मैं उस हाथ को काट डालूंगा।'

अब आप ही बताईये कि क्या ऐसा होगा हमारा युवा भारत और क्या ऐसे होंगे हमारे भारत के युवा नेता??????

स्रोत: नवभारत टाईम्स

सारांश यहाँ आगे पढ़ें के आगे यहाँ

5 टिप्पणियाँ:

Manoj dwivedi ने कहा…

navbharat times se aur koi khabar nahi mili tumko churane ke liye. maine bhi padha NBT kahi bhi musalman sabd ka prayog nahi kiya gaya hai. varun gandhi ne jo kiya so kiya usse jyada bura kam tum kar rahe ho..mr. sanjay sen sagar. ye sab lafdebaji apne hi blog par kiya karo.

स्वच्छ संदेश: हिन्दोस्तान की आवाज़ ने कहा…

jhooth ko itni baar kaho ki wah sach lagne lage!!

puri duniyan dekh rahi hai aur sun rahi hai varun ko mere paas apni bhi likhi isi vishay par post hai lekin samayabhav se main use post nahin kar paya hoon... with photo aur video of varun gadhi mobile mein qaid hai mere.........

mark rai ने कहा…

its totaly politics. i cant any comment on this topic.

रजनीश के झा (Rajneesh K Jha) ने कहा…

भड़ास की रचनात्मकता आम जन से जुडी हुई है, इन बेकार के चोंचले के बजाय आम जन के मुद्दे उठायें.
जय जय भड़ास

गुफरान सिद्दीकी ने कहा…

जनाब,
वरुण ने क्या किया क्या नहीं ये तो देश की जनता ही वरुण को बताएगी और वैसे भी कम उम्र में ज्यादा प्रसिद्धि मिलने से उनको घी न हज़म होने वाली बीमारी लग गयी है शायद खैर हम यहाँ समाज और जनता के बीच फैली कुसंस्क्रितियों की लडाई लड़ने आयें हैं हम राजनिति पर टिप्पदी कर सकते हैं लेकिन उनका सन्देश इस तरह फैला नहीं सकते .........,
आपका हमवतन भाई ........गुफरान ......अवध पीपुल्स फोरम फैजाबाद

प्रकाशित सभी सामग्री के विषय में किसी भी कार्यवाही हेतु संचालक का सीधा उत्तरदायित्त्व नही है अपितु लेखक उत्तरदायी है। आलेख की विषयवस्तु से संचालक की सहमति/सम्मति अनिवार्य नहीं है। कोई भी अश्लील, अनैतिक, असामाजिक,राष्ट्रविरोधी तथा असंवैधानिक सामग्री यदि प्रकाशित करी जाती है तो वह प्रकाशन के 24 घंटे के भीतर हटा दी जाएगी व लेखक सदस्यता समाप्त कर दी जाएगी। यदि आगंतुक कोई आपत्तिजनक सामग्री पाते हैं तो तत्काल संचालक को सूचित करें - rajneesh.newmedia@gmail.com अथवा आप हमें ऊपर दिए गये ब्लॉग के पते bharhaas.bhadas@blogger.com पर भी ई-मेल कर सकते हैं।
eXTReMe Tracker

  © भड़ास भड़ासीजन के द्वारा जय जय भड़ास२००८

Back to TOP