रिलायंस नेट कनेक्शन लेना मतलब झूटे बिलों का पुलिंदा

शनिवार, 1 अगस्त 2009

दोस्तों यदि आप रिलायंस का नेट कुनेच्शन लेना चाहते हो तो भूल कर भी मत लेना ,वेरा ये लोग आप को झूटे बिलों का पुलिंदा थमा देगे , मैंने रिलायंस का कनेक्शन २ महीने पहले लिया था , दूसरे ही बिल मे इनका बिलों को बड़ा कर बताना पकड़ मे आ गया , , देखे जरा ये .
..
तस्वीर को साफ़ देखे के लिए इस पर क्लिक्क करे
ये रिलायंस द्वारा रिलायंस के साईट पर आप का उसे किया हुआ डाटा , समय , सभी बताती है , जरा इस का झूट देखो 29 जुलाई को रात 10 बज कर 14 मिनट 29 सेकंड को मैंने नेट कुनेक्ट किया , फ़िर उसे 2003 सेकंड चलाया , मतलब 33 मिनट 29 सेकंड चलाया , मतलब 22:14:29 + 00:33:29 = 22:48:08 तक चलाया ,

फ़िर ये 22:47:53 पर साथ मे 22:47:57 पर किस ने मेरे कनेक्शन पर कनेक्ट कर लिया , ये झूटी एंट्री सिर्फ़ रिलायंस ही कर सकता है , और भी बहुत कुछ है इन के बे मे बताने को ,

अगर आप मे से और भी कोई इस तरह की प्रॉब्लम मे है तो जरूर बताय , चाहे तो मुझे मेल कर सकता है
amit_jain_a@yahoo.com

आप भी सुझाव दे की मै क्या करू

2 टिप्पणियाँ:

Satyajeetprakash ने कहा…

इन बेइमानों की जाल में मैं भी कई बार फंस चुका हूं. ईमानदारी से रोटी-दाल भी पेटभर नहीं मिलती. ये लूटेरे लोग आम आदमी को लूट-लूट कर ही इतने बड़े बने हैं. सरकार, सत्ता और शासन हर प्रकार से इनकी मदद कर रही है. आप एक बार इनसे ठगे गए मैं बीस बार ठगा गया.

डा.रूपेश श्रीवास्तव(Dr.Rupesh Shrivastava) ने कहा…

ये पूंजीवादी लुटेरे ऐसे ही गरीबों का खून चूसते रहते हैं और गरीब रिरियाने के अलावा कुछ नहीं करता है। मैं बताता हूं कि आप इनके कार्यालय में जाकर अपनी पूरी इच्छाशक्ति लगा कर इनकी मां-बहन एक कर दो,देखो आपका काम हो जाएगा(गालियां ही गरीब का अंतिम हथियार हैं गोलियां तो खरीदनी पड़ती हैं और उसके लिये पैसे नहीं होंगे)
जय जय भड़ास

प्रकाशित सभी सामग्री के विषय में किसी भी कार्यवाही हेतु संचालक का सीधा उत्तरदायित्त्व नही है अपितु लेखक उत्तरदायी है। आलेख की विषयवस्तु से संचालक की सहमति/सम्मति अनिवार्य नहीं है। कोई भी अश्लील, अनैतिक, असामाजिक,राष्ट्रविरोधी तथा असंवैधानिक सामग्री यदि प्रकाशित करी जाती है तो वह प्रकाशन के 24 घंटे के भीतर हटा दी जाएगी व लेखक सदस्यता समाप्त कर दी जाएगी। यदि आगंतुक कोई आपत्तिजनक सामग्री पाते हैं तो तत्काल संचालक को सूचित करें - rajneesh.newmedia@gmail.com अथवा आप हमें ऊपर दिए गये ब्लॉग के पते bharhaas.bhadas@blogger.com पर भी ई-मेल कर सकते हैं।
eXTReMe Tracker

  © भड़ास भड़ासीजन के द्वारा जय जय भड़ास२००८

Back to TOP