रणधीर सिंह सुमन जी बताएं कि उनके साम्यवाद का क्या मतलब है????

रविवार, 6 जून 2010

वकील साहब ने अपने पोंगा पंथ पर बड़ी ही चतुराई से लीपापोती करते हुए लिख दिया कि वे तो साम्यवादी हैं। अब पता चल ही गया है तो जनाब बिलकुल साफ़ सब्दों में बता दीजिये कि आपका साम्यवाद आपका निजी रचा हुआ है या फ़िर विदेशी कार्लमार्क्स का साम्यवाद मानते हैं? कहीं ऐसा तो नहीं कि आप लेनिन महाराज का साम्यवाद मानते हों या फिर ऐसा तो नहीं कि मार्क्स और लेनिन के वर्णसंकर मा.ले. पर चलते हों? अगर इनसे भी आगे आकर साम्यवाद की बात करते हैं तो हो सकता है कि आप भी माओ की बातों में साम्यता तलाशते होंगे?
अगर आप भी अरुंधती राय की बात पर चल कर ये कह सकते है कि मैं माओवादियों का समर्थन करता हूं जिसे मन में आए जेल में डाल दे तो वाकई आपको सलाम करना पड़ेगा, अरुंधती राय ने तो पचासों पत्रकारों के सामने ये बात मुंबई रेलवे स्टेशन के बाहर बने पत्रकार भवन में बिना किसी लागलपेट के कही थी। आप क्या कहते हैं साम्यवादी जी.......???????
संजय कटारनवरे
जय जय भड़ास

2 टिप्पणियाँ:

अजय मोहन ने कहा…

चुप्पी चुप्पी चुप्पी
खामोशी द ग्रेट सन्नाटा
राजनैतिक पैंतरा
नो कमेंट तक मत कहो
बात अपने आप मर जाएगी पर सुमन जी ये भड़ास है आप शायद इसका मिजाज़ अब तक समझ ही नहीं पाए
जय जय भड़ास

प्रज्ञा ने कहा…

सुमन जी ने इस पर नीचे क्यों नहीं लिखा .. हर माल दो रूपया !!! कहाँ गया साम्यवाद ?

प्रकाशित सभी सामग्री के विषय में किसी भी कार्यवाही हेतु संचालक का सीधा उत्तरदायित्त्व नही है अपितु लेखक उत्तरदायी है। आलेख की विषयवस्तु से संचालक की सहमति/सम्मति अनिवार्य नहीं है। कोई भी अश्लील, अनैतिक, असामाजिक,राष्ट्रविरोधी तथा असंवैधानिक सामग्री यदि प्रकाशित करी जाती है तो वह प्रकाशन के 24 घंटे के भीतर हटा दी जाएगी व लेखक सदस्यता समाप्त कर दी जाएगी। यदि आगंतुक कोई आपत्तिजनक सामग्री पाते हैं तो तत्काल संचालक को सूचित करें - rajneesh.newmedia@gmail.com अथवा आप हमें ऊपर दिए गये ब्लॉग के पते bharhaas.bhadas@blogger.com पर भी ई-मेल कर सकते हैं।
eXTReMe Tracker

  © भड़ास भड़ासीजन के द्वारा जय जय भड़ास२००८

Back to TOP