क्या विडियो को देख कर या डॉ साहब की बात को मान कर हम सभी भूत प्रेत ,तंत्र मन्त्र ,जादू टोना ,उपरी छाया के उपर विश्वाश करने लगे

बुधवार, 6 जुलाई 2011



 डॉ साहब आपने अब तक माता जी की तंत्र मन्त्र से की गई हत्या के विषय मे किसी भी तरह की कोई भी तस्वीर विडियो ,यहाँ पोस्ट नहीं की है ,सिर्फ आप और आपकी मण्डली ये राग अलाप रही है की देखने वाला पहले ये बताये की वो किस विधि से उस को गलत ठरायेगा ,जब आप मुझसे ये बार बार लिख सकते है किउस फोटो को यहाँ पर पर्काशित करो जिस मे मै अपनी पत्नी  के गले मे हाथ डाले बैठा था तो आप क्यों नहीं उस विडियो या तस्वीरो को यहाँ पोस्ट नहीं कर देते ,अब मै ये सवाल करता हू की किस आधार पर कोई भी व्यक्ति ये बताएगा की वो तस्वीर अश्लील थी या नहीं ? है कोई जेवाब , नहीं होगा ,बस आप के कुछ पिछलग्गू कुछ उलटी सीधी बात लिखेगे और दुसरे उन का समर्थन करेगे ,
क्या कभी कोई और व्यक्ति यहाँ इस ब्लॉग पर टिपण्णी करता है ? , यदि करता भी है तो सब मिल कर उस ही को झूठा सिद्ध करने मे लग जाते हो ,गोया की यहाँ सिर्फ १० -१५ ही सारे संसार की अकल ले कर बैठे है

@अमित जैन कह रहा है कि 91 सदस्यों में से कोई अचानक अपना प्रोफ़ाइल चुपचाप बदल कर कुछ गड़बड़ करके दोबारा ओरिजिनल प्रोफ़ाइल पर आ जाए- आयशा

आयशा बहन मैंने ओरिजनल प्रोफाइल पर दोबारा आने की बात  नहीं कही  ,सिर्फ सेटिंग मे छेड छाड की जानी है ,जो प्रोफाइल देखने से पकड मे नहीं आ सकती है

5 टिप्पणियाँ:

अनोप मंडल ने कहा…

अरे अमित राक्षस!तू डॉ.रूपेश से सवाल कर रहा है लेकिन ये नहीं बताता कि वीडियो की जाँच कैसे करेगा?
91 लोगों में एक ही नाम के दो लोग दिखेंगे यदि प्रोफ़ाइल नहीं बदला तो और तू सोचता है कि भड़ास के संचालक अंधे हैं सारे उन लोगों की तरह जिन्हें तुम मायावियों ने भरमा रखा है।
अरे राक्षस तू जिसे बहन कह रहा है उसी के बारे में नीचतापूर्ण लिखता है यही तुम लोगों का राक्षसपन है।
रही बात तेरी पत्नी की तस्वीर की तो वो हम सबके लिये समानरूप से आदरणीय है।खुद ही कहता है कि किस आधार पर बताएंगे कि तस्वीर अश्लील है और खुद ही कह लेता है कि जवाब नहीं होगा। दुष्ट, पातकी तू एक बार तस्वीर डाल तो ताकि तेरा वकील प्रवीण शाह जैन देख ले बाकी हम सबने तो देखी है,डॉ.साहब,रजनीश जी,मुनव्वर आपा सब ही ने देखी है क्यों छिपा रहा है। हम तुझे जवाब देते हैं क्योंकि वह तस्वीर एकदम सामान्य है और तूने उनके बगल में खड़े रह कर मित्रों की तरह हाथ डाल रखा है उसमें कुछ अश्लील नहीं है लेकिन यदि तस्वीर सामने आ गयी तो तेरा वकील बौखला जाएगा है न?
जय नकलंक देव
जय जय भड़ास

अमित जैन (जोक्पीडिया ) ने कहा…

बस आ गये अपनी औकात पर अनूप दास चूतिया की नाजायज औलादों ,हरामियो ये तो मै पहले ही लिख चूका हू
जरा ये दोबारा पढ़ लो
डॉ साहब आपने अब तक माता जी की तंत्र मन्त्र से की गई हत्या के विषय मे किसी भी तरह की कोई भी तस्वीर विडियो ,यहाँ पोस्ट नहीं की है ,सिर्फ आप और आपकी मण्डली ये राग अलाप रही है की देखने वाला पहले ये बताये की वो किस विधि से उस को गलत ठरायेगा
अब तुमने यदि मुझे या जैन धर्म को गाली तो तुम लोग को मै तुम्हारी भाषा मे ही जवाब दुगा जैसा आज दिया है

अनोप मंडल ने कहा…

amit jain ne jain dharm ki kukhya shiksha "kshama-bhav" ko bhula diya our kutte ne kata to kutte ko kaat lenge jaisi chaal chalne lage.kya baat hai Amit gussa aa gaya?

अनोप मंडल ने कहा…

sirf testing technique ke bare mein batane mein itna gussa.Shayed patni ki tasveer publish karne ki baat o lekar naraj hai paramveer amit jain:)
jay nakalank dev
jay jay bhadas

sanjay ने कहा…

91 सदस्यों में से यदि दोबारा कोई अपने ओरिजिनल प्रोफ़ाइल पर वापिस न आए तो इस मक्कार को लगता है कि इसकी करतूत छिप जाएगी। तूने ही नीचपन की पोस्ट लिखी थी और बाद में झूठ बोल रहा है।
91 सदस्यों में से दो अमित जैन संचालकों को नहीं दिखेंगे और जो ब्लागर रजिस्ट्रेशन नंबर होता है वो दूसरा अमित जैन कैसे बदलेगा ये इस मक्कार ने नहीं बताया। इसके वकील की तो मनीषा दीदी ने पोल खोल दी तो अब तर्क करना बंद करके रोता है कि मेरे ऊपर कारीगरी का आरोप लगा रहे हैं। अरे मक्कारों यदि तुम्हारे जाल में आ जाते तो तुम संचालकों को ही धोखेबाज सिद्ध करने पर तुले थे।
जय जय भड़ास

प्रकाशित सभी सामग्री के विषय में किसी भी कार्यवाही हेतु संचालक का सीधा उत्तरदायित्त्व नही है अपितु लेखक उत्तरदायी है। आलेख की विषयवस्तु से संचालक की सहमति/सम्मति अनिवार्य नहीं है। कोई भी अश्लील, अनैतिक, असामाजिक,राष्ट्रविरोधी तथा असंवैधानिक सामग्री यदि प्रकाशित करी जाती है तो वह प्रकाशन के 24 घंटे के भीतर हटा दी जाएगी व लेखक सदस्यता समाप्त कर दी जाएगी। यदि आगंतुक कोई आपत्तिजनक सामग्री पाते हैं तो तत्काल संचालक को सूचित करें - rajneesh.newmedia@gmail.com अथवा आप हमें ऊपर दिए गये ब्लॉग के पते bharhaas.bhadas@blogger.com पर भी ई-मेल कर सकते हैं।
eXTReMe Tracker

  © भड़ास भड़ासीजन के द्वारा जय जय भड़ास२००८

Back to TOP