जरा एक नजर "छिछोरे" पर तो डालिये....

शनिवार, 28 मार्च 2009

भड़ासी भाई बहनो मैंने भी एक नया प्रयोग करा है जरा आप लोग नजर मार कर बताएं कि कैसा लगा
आप सबकी समीक्षा की प्रतीक्षा रहेगी। ये टीन-एज के लोगों का ब्लाग है और इसका नाम रखने की प्रेरणा मुझे मेरी एक सड़ी सी बेकार टीचर से मिली जो हमेशा अजीब से सम्बोधनों से बच्चों को बुलाती है जैसे कि अरे ए छिछोरे, ओए लौंडे..... वगैरह जबकि मैं एक इंटरनेशनल स्कूल में पढ़ता हूं। मुझे तो छिछोरा शब्द काफ़ी आकर्षक लगा ऐसा लगता है कि इसमें ’छिपा हैं कोई शरारती सा छोरा’ जो दुनिया बदल सकता है अगर आपनी पर आ जाए।
http://www.chhichhore.tk यानि कि छिछोरे.....

जय जय भड़ास

4 टिप्पणियाँ:

दीनबन्धु ने कहा…

बासित बच्चा! तुम तो बड़े तेज़ निकले जब कुछ दिन पहले मैं और अजय मोहन भाई से मिले थे तब तो इस योजना के बारे में नहीं बताया था, तुम्हारे ब्लाग के नाम से मिलता-जुलता एक गाना है :)
काले काले बाल
गाल गोरे गोरे
अरे ओरे ओरे....
इसमें छिछोरे कितनी मस्ती से फिट करा जा सकता है:)
जय जय भड़ास

मुनव्वर सुल्ताना ने कहा…

छिछोरे.... बड़ा ही धांसू और धड़ाम धकेल नाम है बच्चे लेकिन मानना पड़ेगा तुम्हें जो इतना अजीब नाम रखने की हिम्मत कर पाए...
लगे रहो भड़ास का आशीर्वाद तुम्हारे साथ है
जय जय भड़ास

रजनीश के झा (Rajneesh K Jha) ने कहा…

बासित साहब,
बधाई और शुभकामना, प्रयास बढिया है जारी रहिये.
जय जय भड़ास

mark rai ने कहा…

congratulation...

प्रकाशित सभी सामग्री के विषय में किसी भी कार्यवाही हेतु संचालक का सीधा उत्तरदायित्त्व नही है अपितु लेखक उत्तरदायी है। आलेख की विषयवस्तु से संचालक की सहमति/सम्मति अनिवार्य नहीं है। कोई भी अश्लील, अनैतिक, असामाजिक,राष्ट्रविरोधी तथा असंवैधानिक सामग्री यदि प्रकाशित करी जाती है तो वह प्रकाशन के 24 घंटे के भीतर हटा दी जाएगी व लेखक सदस्यता समाप्त कर दी जाएगी। यदि आगंतुक कोई आपत्तिजनक सामग्री पाते हैं तो तत्काल संचालक को सूचित करें - rajneesh.newmedia@gmail.com अथवा आप हमें ऊपर दिए गये ब्लॉग के पते bharhaas.bhadas@blogger.com पर भी ई-मेल कर सकते हैं।
eXTReMe Tracker

  © भड़ास भड़ासीजन के द्वारा जय जय भड़ास२००८

Back to TOP