श्री कसाब जी को अंग्रेजी सिखाने के लिये कोचिंग की व्यवस्था करी जाए ......

गुरुवार, 23 अप्रैल 2009

अजमल कसाब जी जो कि मुंबई शहर के पर आतंकी हमला करके १७६ लोगों को मुक्ति दिला कर राष्ट्र दामाद बने हैं हो सकता है कि जिस तरह भारत सरकार उनके साथ व्यवहार कर रही है तो उस सेवा भाव के चलते श्री कसाब जी की अगली मांग हो कि मुंबई की किसी नामचीन अंग्रेजी स्पीकिंग क्लास से बात करके उन्हें तत्काल अंग्रेजी सिखाने के लिये कोचिंग की व्यवस्था करी जाए क्योंकि अब उन्हें अंग्रेजी नहीं समझ में आती। अदालती कार्यवाही में सिर्फ़ अंग्रेजी की गिटपिट में उन्हें बस दो शब्द समझ में आते हैं कसाब और पाकिस्तान.... वैसे कमोबेश हाईकोर्ट और सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच जाने वाले किसी भी आम भारतीय की यही हालत होती है जो बेचारा हिंदी या कोई क्षेत्रीय भाषा बोलता है फिर तो उसे बस रगेदा जाता है कानून-कानून खेल कर....धन्य है हमारा संविधान और हमारा हिंदुस्तान जो अब तक राष्ट्रभाषा हिंदी का बाकायदा संवैधानिक तौर पर राजभाषा अधिनियम बना कर मजाक बना रहा है तो अगर कसाब जीजा जी ऐसी कोई मांग कर लें तो क्या आश्चर्य....
जय जय भड़ास

4 टिप्पणियाँ:

mark rai ने कहा…

.धन्य है हमारा संविधान और हमारा हिंदुस्तान जो अब तक राष्ट्रभाषा हिंदी का बाकायदा संवैधानिक तौर पर राजभाषा अधिनियम बना कर मजाक बना रहा है........bahut hi chinta ka vishay hai sir....kanun kanun khel me garib logo ki jagah hi nahi bachi hai ..bechaare kinaare khade hai...

HEY PRABHU YEH TERA PATH ने कहा…

भाई रुपेशजी,
सही एवम सटीक व्यग, हमारे लोकतान्त्रिक होने का फायदा भले देशवासियो ने ना लिया हो, पर पाकिस्थानी जरुर उठा रहे है।
................................
आप अच्छा लिखते है पहली बार यहॉ पहुचा हू। मेरी शुभकामानाऐ कि आप आयुषवेद, एवम ब्लोगवेद मे सफलतम बने। आभार।
जय जिनेन्द्र॥।
* * * * * VERY GOOD,

डा.रूपेश श्रीवास्तव(Dr.Rupesh Shrivastava) ने कहा…

आदरणीय महावीर जी
सादर धन्यवाद आपकी हौसला अफ़जाई के लिये भड़ास परिवार आपका आभारी है
जय जय भड़ास

बेनामी ने कहा…

accha vyang hain! Bharat sarkaar ki susti aur lachaari par

प्रकाशित सभी सामग्री के विषय में किसी भी कार्यवाही हेतु संचालक का सीधा उत्तरदायित्त्व नही है अपितु लेखक उत्तरदायी है। आलेख की विषयवस्तु से संचालक की सहमति/सम्मति अनिवार्य नहीं है। कोई भी अश्लील, अनैतिक, असामाजिक,राष्ट्रविरोधी तथा असंवैधानिक सामग्री यदि प्रकाशित करी जाती है तो वह प्रकाशन के 24 घंटे के भीतर हटा दी जाएगी व लेखक सदस्यता समाप्त कर दी जाएगी। यदि आगंतुक कोई आपत्तिजनक सामग्री पाते हैं तो तत्काल संचालक को सूचित करें - rajneesh.newmedia@gmail.com अथवा आप हमें ऊपर दिए गये ब्लॉग के पते bharhaas.bhadas@blogger.com पर भी ई-मेल कर सकते हैं।
eXTReMe Tracker

  © भड़ास भड़ासीजन के द्वारा जय जय भड़ास२००८

Back to TOP