मीडिया क्लब की दीपा बिस्वास सामने आओ....

शनिवार, 4 सितंबर 2010

दीपा बिस्वास नाम की आई.डी. बना कर किसी छोकरी का फोटो लगा रखा है जो कि भागवत पढ़ने की सलाह देती है वो भी वैज्ञानिकों को, पता है किस बारे में यूनिवर्स के बनने के बारे में। भड़ासियों को अक्ल भीख में देने की बात करती है, सलाह देती है कि गो माता की सेवा करो और पंचगव्य का सेवन करो ताकि अक्ल आ जाए। इस आई.डी. की आड़ में लिखने वाले/वाली को मेरा निमंत्रण है कि भड़ास पर सिर्फ़ टिप्पणी देने के लिये नहीं मुझसे बात करने के लिये पधारें जिससे कि मैं उनसे और बातें सीख सकूं। मेरा क्षेत्र मॉडलिंग का है तो हो सकता है कि उनकी गाय और गोबर वाली बातों से वो कुछ ब्यूटी टिप्स ही दे सकें हम लड़कियों को। ये भी हो सकता है कि मुझ मुंबई में उन्नीसवीं मंजिल पर रहने वाली लड़की को वे अपने फ्लैट में गाय पाल कर उसकी सेवा करने की सलाह भी दे दें। ये बातें तो बाद में पहले पधारिये तो दीपा रानी.....।
आपकी
आयशा धनानी
जय जय भड़ास

6 टिप्पणियाँ:

Sanjay Mittal ने कहा…

sorry for the comment, but , i would like to advice u ....NASA has advised some of their scientists to learn Sanskrit & appointed so many teachers from India to teach Sanskrit language , just to understand Ramayan , Mahabharat , Geeta, Ved , Puraans etc., because , what they think & imagine today , was described in those thousands year back.We will discuss this issue in detail later....hope u will find it interesting...

दीनबन्धु ने कहा…

होगी तब आएगी न आएशा आपा :)
ये तो बस वेबसाइट पर ये दिखाने के टोटके रहते हैं कि आ जाओ ठरकियों इधर लौंडियें भी हैं जिससे ठरकी लार टपकाते आ जाते हैं और सदस्य संख्या हजारों लाखों में पहुंच जाती है।
जय जय भड़ास

ज़ैनब शेख ने कहा…

Ayisha aapa, this is a fake I.D.I am damn sure about it.just watch now this deepa biswas will be vanished....
jay jay bhadas

डा.रूपेश श्रीवास्तव(Dr.Rupesh Shrivastava) ने कहा…

आएशा आपा दीपा बिस्वास हों कोई अलग बंदा लेकिन यदि बात सही है तो किसी भी हाल में स्वीकार्य है। गाय की महत्ता से कभी इन्कार नहीं है लेकिन ये लिखती हैं कि भैंस के दूध से भड़ासियों की बुद्धि मोटी और काली हो गयी है। सीधे शब्दों में कहूँगा कि ये नादान हैं क्योंकि इन्हें नहीं पता कि आयुर्वेद में भैंस,बकरी,भेड़,ऊंटनी,गधी आदि पशुओं के दूध के औषधीय उपयोग और गुण बताए हैं। इनसे सैकड़ों दवाएं बनती हैं। भागवत पढ़ने की सलाह देने वाला यदि ऐसी बात कहे तो उसे नादान की बजाए मूर्ख कहना सही होगा।
जय जय भड़ास

मुनेन्द्र सोनी ने कहा…

आएशा आपा दीपा के होने न होने से क्या फर्क पड़ता है विचार तो है अब वो चाहे तो किसी भी तस्वीर के पीछे से आए। उस बंदे में नहीं है साहस इसलिये बाबा होकर भी बेबी बना है इसमें हमें कोई आपत्ति नहीं है। ये सेक्स चेंज का निर्णय उसका निजी मामला है :)
जय जय भड़ास

रजनीश के झा (Rajneesh K Jha) ने कहा…

दीपा विश्वास एक और कड़ी है सिर्फ उन चुनिन्दा दलाल ब्लोगरों की जो ब्लॉग के बहाने अपने दलाली का धंधा चम्म्काने की जुगाड़ में है, चाहे यशवंत सिंह हो या अविनाश दास या फिर संजय सेन सागर जो ब्लॉग पर महिला नाम से गुमनाम तिपन्नियाँ कर अपने धंधे का जुगाड़ करता रहा है इसमें एक नया नाम.
जय जय भड़ास

प्रकाशित सभी सामग्री के विषय में किसी भी कार्यवाही हेतु संचालक का सीधा उत्तरदायित्त्व नही है अपितु लेखक उत्तरदायी है। आलेख की विषयवस्तु से संचालक की सहमति/सम्मति अनिवार्य नहीं है। कोई भी अश्लील, अनैतिक, असामाजिक,राष्ट्रविरोधी तथा असंवैधानिक सामग्री यदि प्रकाशित करी जाती है तो वह प्रकाशन के 24 घंटे के भीतर हटा दी जाएगी व लेखक सदस्यता समाप्त कर दी जाएगी। यदि आगंतुक कोई आपत्तिजनक सामग्री पाते हैं तो तत्काल संचालक को सूचित करें - rajneesh.newmedia@gmail.com अथवा आप हमें ऊपर दिए गये ब्लॉग के पते bharhaas.bhadas@blogger.com पर भी ई-मेल कर सकते हैं।
eXTReMe Tracker

  © भड़ास भड़ासीजन के द्वारा जय जय भड़ास२००८

Back to TOP