बाबा रामदेव के समर्थन से अण्णा बने प्रधानमंत्री! - Headline of National Newspaper in Delhi - 25 जून 2012, नयी दिल्ली।

सोमवार, 22 अगस्त 2011

25 जून 2012, नयी दिल्ली। गांधीवादी और सामाजिक कार्यकर्ता किसन बाबूराव उर्फ अण्णा हजारे भारत के नये प्रधानमंत्री मनोनीत किये गये हैं। बीते महीने देश में हुए ऐतिहासिक मध्यावधि चुनावों के परिणाम आज घोषित कर दिये गये। गांधीवादी और सामाजिक कार्यकर्ता अण्णा हजारे के नेतृत्व में बनी जनलोकपाल पार्टी देश में सबसे बड़े राजनीतिक दल के रूप में सामने आई है। जनलोकपाल पार्टी को प्रख्यात योग गुरू बाबा रामदेव के नेतृत्व में बनी भारत-स्वाभिमान पार्टी ने समर्थन देने की घोषणा पहले ही कर दी थी। भारत स्वाभिमान के समर्थन से जनलोकपाल पार्टी के लोकसभा में पूर्ण बहुमत प्राप्त करने पर राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल ने कल श्री हजारे को प्रधानमंत्री मनोनीत कर दिया। श्री हजारे आज दिल्ली के रामलीला मैदान में शपथ लेंगे। बाबा रामदेव की पार्टी के संसदीय दल के नेता श्री सुब्रह्मण्यम स्वामी उप-प्रधानमंत्री होंगे।

लोकसभा के 545 में से 543 सीटों पर बीते महीन हुए चुनाव के परिणाम आ चुके हैं। जनलोकपाल पार्टी को 230 सीटें मिली हैं। वहीं 200 सीटों के साथ बाबा रामदेव की भारत स्वाभिमान पार्टी दूसरे स्थान पर रही। कांग्रेस के नेतृत्व वाले यूपीए और भाजपा के नेतृत्व वाले एन.डी.ए. को 30-30 सीटों से ही संतोष करना पड़ा। शेष 53 सीटों पर निर्दलीय और क्षेत्रीय दलों को विजय मिली है।

नये प्रधानमंत्री की घोषणाएँ:

प्रधानमंत्री मनोनीत होते ही श्री हजारे ने घोषणा की है कि जनलोकपाल कानून लागू करवाने के बाद उनकी पहली प्राथमिकता देश में शराबबंदी की होगी। देश में जो भी व्यक्ति शराब का सेवन करते पाया जाएगा उसे पेड़ से बांधकर पीटा जाएगा। यदि शराब बंद होगी तो ही देश का विकास होगा ऐसा उनका कहना था। बाबा रामदेव द्वारा दिये गये समर्थन पर आभार व्यक्त करते हुए अण्णा ने कहा कि दोनों दलों का एक न्यूनतम साझा कार्यक्रम भी बनाया जाएगा और यदि बाबा चाहें तो रोज सुबह उठकर जो भी नागरिक योग-प्राणायाम न करे उसे भी पेड़ से बांधकर पीटने की सजा दी जा सकती है। उल्लेखनीय है कि ऐसी सज़ा का सफल प्रयोग अण्णा अपने गाँव रालेगण सिद्धि में कर चुके हैं। श्री हजारे द्वारा की गयी अन्य महत्वपूर्ण घोषणाएँ इस प्रकार हैं:

1. शिक्षा व्यवस्था में भी आमूल-चूल परिवर्तन की आवश्यकता। उन्होंने कहा कि "यह बड़े ही दुर्भाग्य का विषय है कि गांधी जी के देश मे बच्चों को सत्याग्रह की शिक्षा नहीं दी जाती। अब से स्कूलों में ही बच्चों को लंबे समय तक बिना बीमार हुए अनशन कैसे करें इसकी ट्रेनिंग दी जाएगी। अण्णा के सहयोगी अरविंद केजरिवाल को मानव-संसाधन मंत्री बनाया जाएगा। इस अवसर पर उपस्थित श्री केजरिवाल ने कहा कि सभी विश्वाविद्यालयों में कुलपति उन्हें ही नियुक्त किया जाएगा जिन्होंने मैगसेसे या नोबल पुरस्कारों में से कम से कम एक पुरस्कार जीता हो।

2. एक नयी सूचना क्रांति का आहवाहन। प्रत्येक भारतीय को इंटरनेट निःशुल्क प्रदान किया जाएगा। इसके बदले उन्हें फेसबुक और ट्विटर पर हमेशा ऑनलाईन रहना अनिवार्य होगा।

3. नये कानूनों का निर्माण। कपिल सिब्बल को चांदनी चौक संसदीय क्षेत्र से लोकसभा का चुनाव हराने वाले प्रशांत भूषण विधि मंत्री नियुक्त किये जाएंगे। अण्णा ने कहा कि श्री भूषण के पिता श्री शांति भूषण की अध्यक्षता में एक ड्राफ़्ट कमिटी बनायी जाएगी जो भारत के सभी कानूनों की समीक्षा कर नये कानूनों को लिखने का काम करेगी। जैसा भी यह कमिटी कहेगी अक्षरशः वैसा ही कानून संसद में बिना बहस के पारित करा लिया जाएगा।

4. कानून व्यवस्था में सुधार। काँग्रेस अध्यक्षा श्रीमती सोनिया गाँधी को अमेठी के चुनाव में हराने वाली डॉ. किरण बेदी को गृह मंत्री बनाया जाएगा। किरण बेदी का कहना था कि वे देश की सारी जेलों को तिहाड़ जेल की तरह सुधार गृह में परिवर्तित कर देंगी। ऐसा करने पर सभी अपराधी आप ही सुधर जाएँगे और अपराधों में कमी आएगी। देश की अदालतों में चल रहे मुकदमों को कम करने के लिये स्टार प्लस चैनल पर आने वाला किरण बेदी का कार्यक्रम "आप की कचहहरी" अब दूरदर्शन पर रोज़ 4 घंटे आएगा। स्वयं किरण बेदी इसमें जज बनकर मुकदमों का निपटारा कर देंगी। इससे अदालतों को काम के बोझ से काफी मुक्ति मिलेगी।

5. अल्पसंख्यकों का विकास होगा। अल्पसंख्यकों के विकास पर विशेष ध्यान देने की घोषणा करते हुए मनोनीत प्रधानमंत्री श्री अण्णा हजारे ने अल्पसंख्यकों के विकास हेतु गुजरात के मुख्यमंत्री नरेन्द्र मोदी के द्वारा बनाये गये मॉडल की प्रशंसा की। हालाँकि अरविंद केजरिवाल के द्वारा टोकने पर बाद में अण्णा ने कहा कि उनकी बात को तोड़ मरोड़कर प्रस्तुतु किया गया है। उन्होंने कहा कि स्वामी अग्निवेश को अल्पसंख्यक आयोग का अध्यक्ष बनाया जाएगा। वही अल्पसंख्यकों के विकास की योजना बनाएँगे।

6. सिंचाई हेतु नये बाँध बनेंगे। मेधा पाटकर को नया सिंचाई मंत्री बनाने की घोषणा करते हुए अण्णा ने कहा कि सुश्री पाटकर अब देश के हर गली-मोहल्ले में छोटे बाँधों का निर्माण करेंगी। इसके बाद भाखड़ा-नांगल समेत देश के सभी बड़े बाँधों को तोड़ दिया जाएगा।

बाबा रामदेव की प्रतिक्रिया:

भारत स्वाभिमान पार्टी के संस्थापक बाबा रामदेव का कहना था कि उन्होंने अण्णा हजारे को दो प्रमुख शर्तों पर समर्थन दिया है। पहली शर्त यह कि विदेशों में जमा देश का काला धन वापस लाया जाएगा। और दूसरी शर्त यह कि केंद्रीय मंत्रिमंडल सहित सरकार के सभी अधिकारी कर्मचारी प्रातः सार्वजनिक उद्यानों में आम जनता के साथ योगासन करेंगे। उन्होंने पेप्सी-कोला बंद करने और समलैंगिकता पर प्रतिबंध लगाने के लिये कानून लाने की भी माँग की है। सूत्रों का कहना है कि बाबा के प्रिय शिष्य आचार्य बालकृष्ण को स्वास्थ्य मंत्री बनाया जा सकता है। यह भी चर्चा है कि बाबा वेदप्रताप वैदिक को विदेश मंत्री और स्वदेशी अर्थव्यवस्था की स्थापना के लिये श्री के. एन. गोविन्दाचार्य को वित्त मत्री बनाने की भी बात अण्णा से मनवा चुके हैं।

सुब्रह्मण्यम स्वामी का बयान:

श्री स्वामी का कहना था कि उपप्रधानमंत्री बनते ही वे गाँधी परिवार की असलियत का पता लगाने के लिये एक आयोग का गठन करेंगे। 2 जी घोटाले जैसे घोटाले और ना हों इसके लिये देश के साधु-संतों से मार्गदर्शन लेकर वे नयी योजना बनाएँगे। आपने अमएरिका के हार्वर्ड जैसे विश्वविद्यालय अपने देश में भी शुरू करने की बात कही। आपने यह भी कहा कि जून 2011 में रामलीला मैदान में जिनपर लाठी चार्ज हुआ था उन्हें स्वत्रता सेनानी का दर्जा दिया जाएगा।

काँग्रेस की प्रतिक्रिया:

काँग्रेस के प्रवक्ता मनीष तिवारी ने एन.डी.ए. की केवल तीस सीटें आने पर कहा कि इससे साबित होता है कि देश की जनता ने भाजपा को नकार दिया है। यह पूछे जाने पर कि उनके गठबंधन की भी इतनी ही सीटें आयी हैं और वे चुनाव हार गये हैं, श्री तिवारी ने कहा कि यह सब राष्ट्रीय स्वयं संघ और अमेरिका की खुफिया एजेंसी सी.आई.ए. का षढयंत्र है।

इधर काँग्रेस सूत्रों ने बताया कि इटली में अपने एक बीमार रिश्तेदार का हाल जानने के लिये श्रीमती सोनिया गांधी पुत्र राहुल गांधी, बेटी प्रियंका और दामाद रॉबर्ट के साथ फिलहाल रोम गयी हैं।

दिग्विजय सिंह की प्रतिक्रिया:

काँग्रेस महासचिव श्री दिग्विजय सिंह का चुनाव परिणामों पर कहना था कि आर.एस.एस. की साजिश का शिकार हो चुका चुनाव आयोग निष्पक्ष चुनाव कराने में विफल रहा है। उनका कहना था कि पूरे देश में सलवा-जुड़ूम के कार्यकर्ताओं की दहशत की वजह से जनता ने काँग्रेस को वोट नहीं दिया। सलवा जुड़ूम को भी संघ की साजिश बताते हुए उन्होंने कहा कि पुलिस एनकाउंटर में मारे जाने से पहले नक्सली नेता आजाद ने उन्हें खुद फ़ोन करके बताया था कि नक्सलियों को मारने के लिये संघ के स्वयंसेवकों को एस.पी.ओ. बनाय जा रहा है और उन्हें बंदूकें दी जा रही हैं। इन्हीं एस.पी.ओ. की बंदूक के दम पर अण्णा और बाबा की पार्टियाँ चुनाव में जीत गयी हैं। हालाँकि श्री सिंह ने कहा कि आजाद के फोन कॉल की डिटेल्स अब बी.एस.एन.एल के पास उपलब्ध नहीं है। अतः वे अपनी बात को सिद्ध नहीं कर सकते।

गडकरी की फिर फिसली ज़ुबान:

भाजपा अध्यक्ष श्री नितिन गडकरी ने एक बार फिर विवादासपद बयान दिया। चुनाव परिणामों पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि "काँग्रेस पार्टी बिल्ली की औलाद है"। हालाँकि बाद में श्री गडकरी ने अपने बयान पर माफी भी माँग ली। चुनाव हारने के मुद्दे पर पूछे जाने पर उनका कहना था कि वे पहले नागपुर जाएँगे। घर पर कुछ समय विश्राम करने के बाद वे संघ मुख्यालय जाएँगे। वहाँ जैसा बताया जाएगा, वैसा बयान मीडिया को उपलब्ध करा दिया जाएगा।
--

धन्यवाद एवं हार्दिक शुभेच्छा,

प्रकृति आरोग्य केंद्र

सेंद्रिय, आयुर्वेदिक, वनस्पतीय, प्राकृतिक और स्वदेशी वस्तुओं का वैशेषिक विक्रय केंद्र
=====================================================

Thanks and Regards,
Prakriti Aarogya Kendra
Specialty Store of Organic, Ayurvedic, Herbal, Natural & Swadeshi Products
=========================================================

Shop No. 2, Buena Vista,
Off Ganpati Chowk,
Near Kailas Super Market
Viman Nagar, Pune - 411014
Contact Number : 020-40038542, 9822622905, 9881308509

Website www.prakritipune.in
Google Group http://groups.google.com/group/prakriti-a-call-to-return-to-the-nature

Other Useful Links www.rajivdixit.in, www.rajivdixit.com

1 टिप्पणियाँ:

अमित जैन (जोक्पीडिया ) ने कहा…

@सिंचाई हेतु नये बाँध बनेंगे। मेधा पाटकर को नया सिंचाई मंत्री बनाने की घोषणा करते हुए अण्णा ने कहा कि सुश्री पाटकर अब देश के हर गली-मोहल्ले में छोटे बाँधों का निर्माण करेंगी। इसके बाद भाखड़ा-नांगल समेत देश के सभी बड़े बाँधों को तोड़ दिया जाएगा।

BAHUT BADIYA

प्रकाशित सभी सामग्री के विषय में किसी भी कार्यवाही हेतु संचालक का सीधा उत्तरदायित्त्व नही है अपितु लेखक उत्तरदायी है। आलेख की विषयवस्तु से संचालक की सहमति/सम्मति अनिवार्य नहीं है। कोई भी अश्लील, अनैतिक, असामाजिक,राष्ट्रविरोधी तथा असंवैधानिक सामग्री यदि प्रकाशित करी जाती है तो वह प्रकाशन के 24 घंटे के भीतर हटा दी जाएगी व लेखक सदस्यता समाप्त कर दी जाएगी। यदि आगंतुक कोई आपत्तिजनक सामग्री पाते हैं तो तत्काल संचालक को सूचित करें - rajneesh.newmedia@gmail.com अथवा आप हमें ऊपर दिए गये ब्लॉग के पते bharhaas.bhadas@blogger.com पर भी ई-मेल कर सकते हैं।
eXTReMe Tracker

  © भड़ास भड़ासीजन के द्वारा जय जय भड़ास२००८

Back to TOP