रजनीश जी पर यशवंत सिंह का प्रेत सवार हो चुका है

बुधवार, 23 नवंबर 2011

एकदम सीधा अनुमान लगा रहा हूँ कि भड़ास पर किलर झपाटा के नाम से लिखने वाले और उल्टेसीधे नामों से टिप्पणी करने वाले कोई दूसरे नहीं बल्कि खुद भड़ास के संचालक रजनीश के.झा हैं जो कि शायद भड़ास पर डॉ.रूपेश श्रीवास्तव जी से अलग विचारधारा रखते हैं और अब बाजारवाद के बहाव में आकर ये हरकतें कर रहे हैं। वैसे भी उन्हें अब भड़ास के लिये समय नहीं है क्योंकि वे अपने निजी कार्यों में व्यस्त हैं। एक बार दोबारा भड़ास पर वही कहानी दोहराए जाने की आशंका है जो पहले भड़ास पर हो चुकी है, रजनीश जी पर यशवंत सिंह का प्रेत सवार हो चुका है इसलिये डॉ.रूपेश जी एक बार फिर तैयार हो जाएं इस बात के लिये कि भड़ास का फिर पुनर्जन्म होगा और इस बार हत्या के जिम्मेदार होंगे रजनीश झा ।
जय जय भड़ास

4 टिप्पणियाँ:

हमारी विचार धारा ही सही है ,बाकि तो चूतिया है ने कहा…

बस ये ही तुम १० -१२ चूतिये ,छक्के मिल कर गाते रहो ,और कोई अगर इस से अलग बोले तो उस को गरियाओ ,बस यही भड़ास रह गई है ,अब इस भड़ास को अपने पीछे घुसा कर यहाँ ब्लॉग पर कुत्तों की तरह भोकते रहो ,भागते तुम रहे हो ,जहा भड़ास ब्लॉग पर 1700 से ज्यादा मेम्बर है ,और यहाँ बस तेरे जैसे ९० चूतिया और छक्के, अब इस भड़ास को अपने पिछवाड़े मे डाल लो

डा.रूपेश श्रीवास्तव(Dr.Rupesh Shrivastava) ने कहा…

ये भड़ास तो तुम्हारे पिछवाड़े में तूफ़ान मचाए हुए है मुखौटाधारी कीड़े तभी तो इधर रेंग रहा है वरना अपने नाजायज़ बाप यशवंत सिंह के पास सत्रह सौ में बिलबिलाता। भड़ासी क्या हैं ये तो तेरे बाप और तुझे दोनो को खूब पता चल गया है।
जय जय भड़ास

आइना देख कर ,अपनी शक्ल पर गुस्सा निकालते रहो ने कहा…

अपनी असली शक्ल देख कर गुस्सा आ रहा है , गन्दी नाली के कीडो ...:)

रजनीश के झा (Rajneesh K Jha) ने कहा…

हा हा हा हा हा हा....
दोस्त हमारे ऊपर सब आत्मा क्या सवार होगी हम तो अपने आप में आत्मा हैं ;-) और हां ये यशवंत कहाँ से आ गया. नाजायज वंसजों कि नाजायज औलाद की कोई आत्मा नहीं होती. यसवंत तो अपनी खून का सौदा भी शराब के लिए कर ले.
काहिर मैं सफाई नहीं दूंगा मगर आत्मा कभी परमात्मा से अलग नहीं होते हैं. रजनीश कि आत्मा भड़ास (परमात्मा ) में समाई हुई है.
जय जय भड़ास

प्रकाशित सभी सामग्री के विषय में किसी भी कार्यवाही हेतु संचालक का सीधा उत्तरदायित्त्व नही है अपितु लेखक उत्तरदायी है। आलेख की विषयवस्तु से संचालक की सहमति/सम्मति अनिवार्य नहीं है। कोई भी अश्लील, अनैतिक, असामाजिक,राष्ट्रविरोधी तथा असंवैधानिक सामग्री यदि प्रकाशित करी जाती है तो वह प्रकाशन के 24 घंटे के भीतर हटा दी जाएगी व लेखक सदस्यता समाप्त कर दी जाएगी। यदि आगंतुक कोई आपत्तिजनक सामग्री पाते हैं तो तत्काल संचालक को सूचित करें - rajneesh.newmedia@gmail.com अथवा आप हमें ऊपर दिए गये ब्लॉग के पते bharhaas.bhadas@blogger.com पर भी ई-मेल कर सकते हैं।
eXTReMe Tracker

  © भड़ास भड़ासीजन के द्वारा जय जय भड़ास२००८

Back to TOP