बस यही देखना था अमित जैन कि तुम किस हद तक गिर सकते हो

मंगलवार, 10 मई 2011

डा.रूपेश श्रीवास्तव जी की माताजी की मृत्यु के विषय में मैंने कभी ये नहीं कहा कि उनके द्वारा बनाया गया वीडियो सत्य हो सकता है लेकिन मैंने ये जरूर कहा है कि डा.रूपेश जी की चौकस नज़र को धोखा नहीं दिया जा सकता है। जो शख्स खुद ही उस तांत्रिक पर भरोसा न करके वीडियो कैमरा लेकर बैठा है और फिर बने हुए वीडियो पर भी यथासंभव प्रयास कर रहा है कि इस मामले को सुलझा सके तो प्रवीण शाह, प्रकाश गोविन्द और अमित जैन एक ही रट लगाए पड़े हैं कि ये सारे के सारे लोग अंधविश्वासी हैं और प्रवीण शाह ने तो तर्क की हद कर दी ये लिख कर कि सारा का सारा भड़ास ही अनूप मंडल के कब्जे में है। अमित जैन और प्रवीण शाह ने पूरा जोर लगा दिया है कि विचार-विमर्श की दिशा को येन-केन-प्रकारेण मोड़ दिया जाए। प्रवीण शाह लिखते हैं कि सत्य सांई बाबा के वीडिओज़ में उनकी हाथचालाकी पकड़ में नहीं आती लेकिन जब उन्हें रगेदा तो पल्टी मार गए और दूसरा राग अलापने लगे कि अमित की बीवी की बेइज़्ज़ती कर दी गयी और संचालक कुछ नहीं बोले। ये सब पमाड़ा इस लिये करा जा रहा था कि विचार विमर्श की दिशा मोड़ी जा सके जबकि ऐसा कुछ था ही नहीं, अमित ने मेरी माताजी के लिये जो लिखा उस पर मुझसे पहले भड़ास के सजग और निष्पक्ष संचालक डा.रूपेश श्रीवास्तव जी ने आपत्ति जता दी।
डा.रूपेश श्रीवास्तव जी की माताजी की तंत्र-मंत्र द्वारा रहस्यमय तरीके से कर दी गयी नृशंस हत्या से संबंधित पोस्ट इन कड़ियों पर पढ़ें ताकि अमित जैन जैसे लोग इस विषय को भटका न सकें।

इस रहस्यमय नृशंस हत्या के खुलासे की पहली कड़ी- भाग १

जिन्हें ये हत्या मात्र मनगढंत कहानी लग रही है वे इस दूसरी कड़ी को भी पढ़ें- भाग-२

डा.रूपेश जी की माता जी की मृत्यु नैसर्गिक नहीं बल्कि अत्यंत क्रूर हत्या थी- भाग 3
डा.रूपेश जी की माता जी की मृत्यु नैसर्गिक नहीं बल्कि अत्यंत क्रूर हत्या थी- भाग 4

डा.रूपेश जी की माता जी की मृत्यु नैसर्गिक नहीं बल्कि अत्यंत क्रूर हत्या थी- भाग 5

डॉ.रूपेश श्रीवास्तव जी की माता जी की रहस्यमय हत्या पर एक बुजुर्ग भड़ासी का शक-शुबहा भाग -6


अब यही अमित जैन भागने से पहले उन्हें बदनाम करने की कुत्सित योजना बना कर चल रहा है लेकिन याद रख धूर्त कि तू और तेरे मक्कार वकील के षडयंत्रों को यहां सब समझ रहे हैं। अपनी बीवी के साथ गलबहियों वाली तस्वीर प्रकाशित करने की बात से अब तेरी सच्चाई की हवा निकल रही है क्या बात है अब अपनी पोस्ट के साथ कार्टून नहीं लगा रहा या दस्त लगने लगे?
जय जय भड़ास

2 टिप्पणियाँ:

डा.रूपेश श्रीवास्तव(Dr.Rupesh Shrivastava) ने कहा…

मुझे अमित जी की प्रतिक्रिया के साथ ही प्रवीण शाह जी की प्रतिक्रिया की प्रतीक्षा है।
जय जय भड़ास

अनोप मंडल ने कहा…

इतनी जल्दी नहीं आदरणीय डॉ.साहब कुछ समय ये चुप्पी साधे रहेंगे फिर उसके बाद जब मुख्य पन्ने से ये पोस्ट पीछे चली जाएंगी तब अमित जैन फिर आएगा कोई चुटकुला लेकर। यही तो नीति है रा्क्षसों की कि जब पहचान लिये जाओ तो कुछ दिन के लिए छिप जाओ शांति रखो फिर उसके बाद कुछ कुटिलता करो। प्रवीण शाह जैसे मक्कारों में इतना साहस नहीं है कि वे सामने आ सकें। आपने मुलाकात में सचिन भाई को बताया है कि इन्होंने जिस मेल आई.डी.से भड़ास ज्वाइन करा है उसे गोपनीय रखने की बात करी है और आपने रखा भी है। आप तो अपनी जगह ही हैं लेकिन ये अपनी कुटिलता नहीं छोड़ते।
जय जय भड़ास
जय नकलंक देव

प्रकाशित सभी सामग्री के विषय में किसी भी कार्यवाही हेतु संचालक का सीधा उत्तरदायित्त्व नही है अपितु लेखक उत्तरदायी है। आलेख की विषयवस्तु से संचालक की सहमति/सम्मति अनिवार्य नहीं है। कोई भी अश्लील, अनैतिक, असामाजिक,राष्ट्रविरोधी तथा असंवैधानिक सामग्री यदि प्रकाशित करी जाती है तो वह प्रकाशन के 24 घंटे के भीतर हटा दी जाएगी व लेखक सदस्यता समाप्त कर दी जाएगी। यदि आगंतुक कोई आपत्तिजनक सामग्री पाते हैं तो तत्काल संचालक को सूचित करें - rajneesh.newmedia@gmail.com अथवा आप हमें ऊपर दिए गये ब्लॉग के पते bharhaas.bhadas@blogger.com पर भी ई-मेल कर सकते हैं।
eXTReMe Tracker

  © भड़ास भड़ासीजन के द्वारा जय जय भड़ास२००८

Back to TOP